Home

एक कोशिश अपनी संस्कृति और उसमे प्रद्दत्त ज्ञान के अथाह भण्डार के मंथन की

हाल ही के पोस्टस

Gayatri Ki Gupt Shaktiya

गायत्री की गुप्त शक्तियाँ ॐ भूर्भुवः स्वः तत्सवितुर्वेण्यं भर्गो देवस्य धीमहि धियो यो नः प्रचोदयात्। गायत्री सनातन एवं अनादि मंत्र है। पुराणों में कहा गया है कि ‘‘सृष्टिकर्त्ता ब्रह्मा को आकाशवाणी द्वारा गायत्री मंत्र प्राप्त हुआ था, इसी गायत्री की साधना करके उन्हें सृष्टि निर्माण की शक्ति प्राप्त हुई। गायत्री के चार चरणों की व्याख्या … पढ़ना जारी रखें Gayatri Ki Gupt Shaktiya

रुद्राक्ष – उत्त्पत्ति, प्रकार और प्रयोग

ऐसा माना जाता है की रुद्राक्ष की उत्त्पत्ति शिव जी के आंसुओ द्वारा हुई, ऐसा माना जाता है की कई वर्षो तक तपस्या में लीन रहने के बाद जब भगवान् शंकर ने अपनी आँखे खोली, तो उनकी आँखों से आंसुओ की बूँद गिरी, जहाँ पर शिव जी के आंसू गिरे वहाँ रुद्राक्ष का पेड़ बन … पढ़ना जारी रखें रुद्राक्ष – उत्त्पत्ति, प्रकार और प्रयोग

ज्योतिष : कुंडली से जाने :संतान प्राप्ति का समय :निःसंतान योग :संतान बाधा दूर करने के सरल उपाय:

🌟🌟🌟🌟🌟🌟🌟🌟🌟🌟🌟🌟   ज्योतिषीय विश्लेषण के लिए हमारे शास्त्रों मे कई  सूत्र दिए हैं।  कुछ प्रमुख सूत्र इस प्रकार से  हैं। ज्योतिषीय नियम हैं जो घटना के समय बताने  में सहायक होते हैं . संतान प्राप्ति  का समय : लग्न और लग्नेश को देखा  जाता  है। घटना का संबंध किस भाव से है भाव का स्वामी … पढ़ना जारी रखें ज्योतिष : कुंडली से जाने :संतान प्राप्ति का समय :निःसंतान योग :संतान बाधा दूर करने के सरल उपाय:

क्या हैं बंधन और उनके उपाय?

कई बार व्यक्ति की समृद्धि अचानक रुष्ट हो जाती है बंधन अर्थात् बांधना। जिस प्रकार रस्सी से बांध देने से व्यक्ति असहाय हो कर कुछ कर नहीं पाता, उसी प्रकार किसी व्यक्ति, घर, परिवार, व्यापार आदि को तंत्र-मंत्र आदि द्वारा अदृश्य रूप से बांध दिया जाए तो उसकी प्रगति रुक जाती है और घर परिवार … पढ़ना जारी रखें क्या हैं बंधन और उनके उपाय?

अधिक पोस्टस